WWE

जानिये क्यों WWF ने अपना नाम बदलकर WWE रखा

जानिये क्यों WWF ने अपना नाम बदलकर WWE रखा क्या वजह थी जिसके कारण wwe को यह कदम उठाना पड़ा।
जानिये क्यों WWF ने अपना नाम बदलकर WWE रखा
रेसलिंग इंडस्ट्री की सबसे बड़ी कंपनी है और अगर यह सबसे बड़ी कंपनी है तो इसका इतिहास  भी सबसे बड़ा ही होगा जी हां ऐसा ही कुछ है। डब्ल्यूडब्ल्यूई ने अब तक बहुत बार अपना नाम चेंज किया जैसे WWWF, WWF, WWE.
साल 2001 में वर्ल्ड रेसलिंग फेडरेशन का नाम बदलकर वर्ल्ड रेसलिंग इंटरटेनमेंट कर दिया गया और लोगो ने कहा कि यह बदलाव की निशानी है अब खुली और हिंसक एटिट्यूड एरा का दौर खत्म हो चुका है और इसकी जगह क्लीन रोथल्स एग्रेसोन एरा ने ले ली थी इसके साथ ही wwe के फुल टाइम सुपरस्टार जैसे द रॉक और स्टोन कोल्ड ऑस्टिन और इनके अलावा भी बहुत सारे नए चेहरे wwe  ने तलाश की है लेकिन एरा बदलाव के कारण wwe अपना नाम wwf से बदलकर wwe नहीं किया था बल्कि इसके पीछे कोई और कारण था।
साल 1980 में  विंस मैकमोहन ने  टाइटन सपोर्ट नाम की कंपनी शुरू की जिसे उन्होंने wwf नाम दिया और झगड़ा यहीं से शुरू हुआ क्योंकि पहले से ही एक संस्था थी जो इस नाम का इस्तेमाल करती थी।
वर्ल्ड वाइड फंड फॉर नेचर एक  ब्रिटिश संस्था है जो वन्य जीव की सुरक्षा और संरक्षण का काम करती हैं इस चैरिटी की शुरुआत 1961 में हुई थी और उन्होंने तभी से इसी ट्रेडमार्क का इस्तेमाल किया था।

साल 1989 से यह चैरिटी usa में wwf के नाम का इस्तेमाल करती थी और बाकी जगह में वर्ल्ड वाइड फंड फॉर नेचर का इस्तेमाल करती थी। साल 1994 मैं विंस मैकमहोन ने वर्ल्ड वाइड फंड के साथ एक कानूनी करार के जिसमें यह कहा गया था कि अब वह WWF का इस्तेमाल नहीं करेंगे।

इसके साथ ही टाइटन सपोर्ट को उनके लोगों में वर्ल्ड रेसलिंग फेडरेशन इस्तेमाल करने की इजाजत मिलनी चाहिए साल 2000 में wwf ने दावा किया कि करार के नियमन किए गए हैं और इस पर उन्होंने कानूनी रूप अपनाया इस चैरिटी नेम इस पिक में इनकी कंपनी को कोर्ट में लेकर गई जहां पर wwe से wwf इस्तेमाल करने की सभी पावर चीन के गए इसके कुछ महीनों बाद लंदन कोर्ट अपील में सन 2000 में केस निर्णय के खिलाफ केस लेने से इनकार कर दिया गया।

जब यह आधिकारिक हो गया तब मंडे नाइट रॉ के एक एपिसोड पर इसके औपचारिक घोषणा हुई wwe का wwf के बीच हुआ आखिरी शो 2002 में uk के एसुररेक्सश में हुआ एक पे पर व्यू था।

साल 2003 में wwe में एक छोटा केस जीता जिससे उन्हें उन के वीडियो गेम में wwf इस्तेमाल करने की इजाजत मिली लेकिन थोड़े समय के लिए  इस निर्णय से कंपनी के हजारों डॉलर बच गए।

वाइल्डलाइफ चैरिटी को सबसे ज्यादा तकलीफ इस बात की थी कि wwf एक नाम एक रेसलिंग संस्था से जुड़ा हुआ है जो कि उनकी कंपनी खराब कर रहा है।

वWWFN ने दावा किया कि उन्होंने अपने फ्रेंड को बचाने और विंस मैकमोहन के गलत कामों से किनारा करने के लिए कानूनी रास्ता अपनाया है इस नाम के बदलाव के कारण डब्ल्यूडब्ल्यूई को लाखों का नुकसान हुआ क्योंकि स्टॉक में बदलाव करना पड़ा और तैयार मर्चेंडाइड का दोबारा नाम बदलना पड़ा।

इस जोरदार नुकसान के बावजूद कंपनी ने हिम्मत नहीं हारी ओर डट कर रहे इस बदलाव का सामना किया। कैंन्टकी के स्टैमफोर्ड में डब्ल्यूडब्ल्यूई के मुख्यालय में काफी तनाव था।
सभी इस बदलाव को सकारात्मक ढंग से लेने और दर्शकों को सकारात्मक ढंग से दिखाने के बारे में सोच रहे थे।

साल 2001 में लिंडा मैकमोहन ने कहां कि हमारा नया नाम वर्ल्ड रेसलिंग एंटरटेनमेंट होगा और हम उसी के लिए जाने जाएंगे इस तरह से बदलाव एथेलेटिक एबिलिटी से एंटरटेनमेंट की ओर मुड़ गया।

नाम के बदलाव से पूरी पहचान बदल गई किसी भी संस्था के लिए यह हर स्तर पर काफी तनावपूर्ण होता है इसका असर केवल फेस वैल्यू पर नहीं बल्कि लोगों,मर्चेंडाइज, कानूनी कामकाज और स्टॉक शेयर बाजार पर पड़ता है।

Comments

comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *