Sportzpari
Sportzpari.com Is A Fastest Growing Sports Site In India and You Can See Here Cricket News, IPL Stats, IPL News, Wrestling News, WWE News in Hindi.

दुखद: पांच ऐसे दिग्गज भारतीय खिलाड़ी जिन्हें शानदार प्रदर्शन के बावजूद नहीं मिला फेयरवेल मैच

5 ऐसे भारतीय दिग्गज बल्लेबाज जिने लंबे करियर में शानदार प्रदर्शन के बाद नहीं मिला फेयरवेल मैच

हाल ही में न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टी-20 मैच में सन्यास लेने वाले तेज गेंदबाज आशीष नेहरा बहुत ही भाग्यशाली खिलाड़ी रहे। क्योंकि उन्हें लंबे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर के बाद फेयरवेल मैच खेलने का मौका मिला। आशीष नेहरा ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टी-20 मैच में जीत के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से विदाई ली। भारतीय क्रिकेट इतिहास में कहीं ऐसे दिग्गज खिलाड़ी भी रहे हैं जिंहें अच्छे प्रदर्शन के बावजूद फेयरवेल मैच नहीं मिला।

पांच ऐसे भारतीय खिलाड़ी जिन्हें अच्छे प्रदर्शन के बाद फेयरवेल मैच भी नहीं हुआ नसीब

1. वीरेंद्र सहवाग

Virendra Sehwag
वीरेंद्र सहवाग © NDTV Sports

भारतीय टीम में सलामी बल्लेबाज के तौर पर विस्फोटक बल्लेबाज के तौर पर जाने जाने वाले मुल्तान के सुल्तान वीरेंद्र सहवाग को शानदार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर के बाद भी फेयरवेल मैच नसीब नहीं हुआ। वीरेंद्र सहवाग ने टेस्ट क्रिकेट में दो तिहरे शतको के साथ वनडे क्रिकेट में दोहरा शतक बनाया था। वीरेंद्र सहवाग ने साल 2013 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हैदराबाद में अंतिम टेस्ट मैच खेला था। जिसके बाद वीरेंद्र सहवाग को 2 साल तक टीम से बाहर रखा गया और वीरेंद्र सहवाग ने साल 2015 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संयास ले लिया।


2. वी वी एस लक्ष्मण

VVS laxman
वीवीएस लक्ष्मण © ESPN CricInfo

वी वी एस लक्ष्मण एक समय भारतीय टेस्ट टीम के एक भरोसेमंद बल्लेबाज के रूप में जाने जाते थे। वीवीएस लक्ष्मण खासकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तो शानदार फॉर्म में रहते थे। वीवीएस लक्ष्मण ने भी अपना अंतिम मैच ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला था। लेकिन लक्ष्मण को लंबे समय तक भारतीय टीम से बाहर रखने के कारण लक्ष्मण ने मैदान के बाहर ही सन्यास की घोषणा कर दी।


3. जहीर खान

Zaheer Khan
ज़हीर खान © BCCI

भारत की सबसे सफलतम गेंदबाजों में जाने जाने वाले जहीर खान भारत की ओर से वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी थे। जहीर खान ने 2011 विश्व कप में 21 विकेट लिए थे और शाहिद अफरीदी के साथ संयुक्त रुप से पहले नंबर पर रहे थे। जहीर खान ने अपना आखिरी मैच 2013 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था। जिसके बाद ज़हीर खान को भारत की टीम में मौका नहीं मिला और अंततः जहीर खान ने साल 2015 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास ले लिया।

अगली स्लाइड में पढ़ें कौन है वह बाकी दो खिलाड़ी जिन्हें शानदार प्रदर्शन करने के बावजूद नहीं मिली फेयरवेल

सम्बंधित ख़बरे