भारत में पहली बार फीफा अंडर-17 विश्व कप का इवेंट, जानिए इस खास इवेंट के बारे में

फीफा अंडर-17 ट्रॉफी का दिल्ली के इंडिया गेट पर अनावण किया गया।

फुटबॉल की सबसे बड़ी संस्था फीफा पहली बार भारत में कोई आयोजन कर रहा है लिहाजा फीफा भारत में 6 अक्टूबर से 28 अक्टूबर तक अंडर-17 वर्ल्ड कप का आयोजन करेगा, जिसमें दुनिया के जूनियर क्रिस्टिआनो रोनाल्डो और लियोनल मेसी भाग लेंगे। लेकिन इस इवेंट से पहले आज तक भारत में फीफा ने कोई भी इवेंट आयोजित नहीं किया है इसलिए भारतीय दर्शकों के लिए यह एक नया एक्सपीरियंस होगा।

फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप का इतिहास

Image Credit: Hindustan Times

फीफा अंडर-17 की शुरुआत 1985 में हुई थी और इसकी शुरुआत का श्रेय सिंगापुर फुटबॉल को जाता है। सिंगापुर फुटबॉल ने सन 1882 में अंडर-16 का एक फुटबॉल टूर्नामेंट आयोजित करवाया था जिसमें बताया गया था कि इस टूर्नामेंट में सिर्फ 16 साल से कम उम्र के बच्चे ही भाग ले सकते हैं। इसके बाद 1982 में फीफा ने इसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आयोजित करने का फैसला किया।

फीफा अंडर-17 वर्ल्ड कप की शुरुआत के 23 साल बाद सन 2008 में फीफा अंडर-17 महिला विश्व कप की शुरुआत की गई और इसके पहले संस्करण में पूर्वी एशियाई देश उत्तर कोरिया ने बाजी मारी थी।

फीफा अंडर-17 की सबसे प्रभावशाली टीमें

Image Credit: BellaNinja

फीफा अंडर-17 की सबसे प्रभावशाली टीम रही है नाइजीरिया की। नाइजीरिया की टीम अब तक 8 बार फाइनल में पहुंची है जिसमें से पांच बार वह इसका खिताब जीतने में सफल रही है जबकि तीन बार उसे फाइनल में हार का सामना भी करना पड़ा है। नाइजीरिया के बाद दूसरे नंबर पर ब्राजील की टीम आती है जिसने ऐसा अंडर-17 वर्ल्ड कप का खिताब तीन बार अपने नाम किया है।

फीफा अंडर-17 में कुछ इस तरह से होते हैं प्ले ऑफ के नियम

  • ग्रुप्स मैचों में से कौन सी टीम कितने मैच जीती है और उसके कितने अंक हैं।
  • ग्रुप स्टेज में कौन सी टीम कितने गोल के अंतर से हारी है।
  • ग्रुप स्टेज में ग्रुप टॉप करने वाली टॉप 2 टीमें सीधे ही क्वार्टर फाइनल में प्रवेश करती है।

    टूर्नामेंट से पहले, फीफा अंडर-17 ट्रॉफी का दिल्ली के इंडिया गेट पर अनावण किया गया।