गौतम की इस गंभीर पारी ने उन्हें दिलाया भारतीय क्रिकेट टीम की दूसरी दीवार का तमगा

मंगलवार शाम को गौतम गंभीर ने अचानक से सबको हैरान करते हुए सभी तरह के क्रिकेट से कहा अलविदा

कल यानि 4 दिसंबर की शाम को अचानक से ही भारतीय क्रिकेट गलियारों से एक बड़ा ही हैरान करने वाला फैसला आया, जब भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज बाएं हाथ के बल्लेबाज रहे गौतम गंभीर ने अपने करियर को अलविदा कहने का फैसला कर लिया। गौतम गंभीर ने मंगलवार को सभी तरह की क्रिकेट से सन्यास का ऐलान कर दिया।

Photo Source: sportskeeda.com

गौतम गंभीर भले ही भारतीय क्रिकेट टीम से पिछले दो सालों से बाहर थे लेकिन उनकी बल्लेबाजी का हर कोई कायल था। गौतम गंभीर ने भारतीय टीम के लिए कई ऐसी पारी खेली है जो उन्हें बहुत ही खास बनाती है।

इनमें से गौतम गंभीर ने अपने करियर में 137 रनों की एक बहुत ही खास पारी खेली थी साल 2009 में न्यूजीलैंड के दौरे पर जहां उन्हें इस पारी के कारण ही उनके साथी वीरेन्द्र सहवाग ने उन्हें भारतीय क्रिकेट की दूसरी दीवार का तमगा तक दे दिया था।

Photo Source: CricketCountry.com

साल 2009 में भारतीय टीम न्यूजीलैंड के दौरे पर गई थी। जहां नेपियर में खेले गए सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड ने पहले खेलते हुए 619 रनों का बड़ा स्कोर खड़ा किया। इसके बाद भारतीय टीम पहली पारी में केवल 305 रन ही बना सकी जिसमें गंभीर केवल 16 रन का योगदान दे सके।

Photo Source: sportskeeda.com

भारत को न्यूजीलैंड ने फॉलोऑन खेलने को कहा। यहां पर गौतम गंभीर ने किसी भी तरह से इस टेस्ट मैच को बचाने की जिद पकड़ ली और क्रीज पर जम गए।  एक तरफ जहां भारतीय टीम के छोटी-छोटी साझेदारियों के बाद विकेट गिरते रहे तो वहीं दूसरी तरफ गौतम बहुत ही गंभीरता से खूंटा गाड़ दिया।

गौतम गंभीर ने अपने करियर की एक बेहतरीन पारी में से एक पारी खेलकर भारत को मैच में बचा लिया और ड्रॉ करवा लिया। खुद गंभीर ने क्रीज पर 643 मिनट बिताए जिसमें उन्होंने 436 गेंदों का सामना करते हुए 137 रन बनाए और भारत के लिए राहुल द्रविड़ के बाद दीवार होने जैसा अहसास दिया।