Asian Games: भारतीय महिला हॉकी टीम को मिला सिल्वर, फाइनल मे जापान से मिली हार

भारतीय महिला टीम 20 साल के अंतराल के बाद 18वें एशियाई खेलों के फाइनल में खेल रही थी

इंडोनेशिया में चल रहे 18वें एशियाई खेलों के 14वें दिन फाइनल मुकाबले में भारतीय महिला हॉकी टीम को जापान के हाथों हार का सामना करना पड़ा। एशियन गेम्स के महिला हॉकी फाइनल में जापान ने भारत को 2-1 से हराकर गोल्ड मेडल जीता जबकि भारतीय टीम को सिल्वर मेडल संतोष करना पड़ा।

भारतीय महिला हॉकी टीम 20 साल के अंतराल के बाद 18वें एशियाई खेलों के फाइनल में पहुँची थी। भारतीय महिला हॉकी टीम के पास 36 साल के लंबे अंतराल के बाद एशियन गेम्स में स्वर्ण पदक जीतने का मौका था लेकिन फाइनल में जापान के हाथों 1-2 की हार के साथ यह सपना टूट गया। बता दे भारत ने 1982 में नई दिल्ली में हुए नौवें एशियाई खेलों में पहली बार स्वर्ण पदक जीता था।

मैच का पहला गोल जापान की तरफ से शिमिजू मिनामी ने 11वे मिनट में कर अपनी टीम को बढ़त दिलाई। जापान के पास यह बढ़त ज्यादा समय तक नही रही, 25वे मिनट में भारत की फॉरवर्ड खिलाड़ी नेहा गोयल ने शानदार गोल कर मैच का स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया। इसके बाद जापान की कावामुरा मोटोमी ने 44वे मिनट में गोल कर अपनी टीम को 2-1 की बढ़त दिला। 2-1 से बिछड़ने के बाद भारतीय टीम ने गोल करने की भरपूर कोशिश की, लेकिन गोल करने में सफल नही हुई और जापान ने 2-1 से मैच अपने नाम कर लिया।

स्वर्ण पदक जीतने के साथ-साथ जापान अपनी मेजबानी में 2020 में होने वाले टोक्यो ओलंपिक के लिए सीधे क्वालीफाई भी कर लिया, जबकि अब टोक्यो ओलम्पिक खेलने के लिए भारतीय टीम को अब क्वालिफाईंग मैच खेलने होंगे.

 

सम्बंधित ख़बरे