Asian Games 2018: 20 साल के नीरज चोपड़ा ने रचा इतिहास, भाला फेंक में जीता गोल्ड मेडल

20 साल के नीरज चोपड़ा गेम्स की ओपनिंग सेरेमनी में भारत के फ्लैगबियरर थे। गोल्ड मेडल जीतने के साथ ही नीरज ने खुद का ही नेशनल रिकॉर्ड भी तोड़ा।

जकार्ता: इंडोनेशिया के जकार्ता-पालेमबांग में चल रहे 18वें एशियाई खेलों में सोमवार को नीरज चोपड़ा ने पुरुषों के भाला फेंक स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीत कर इतिहास रच दिया। नीरज एशियाई खेलों में इस स्पर्धा में भारत के लिए गोल्ड जीतने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं।

नीरज ने 88.06 मीटर दूर भाला फेंक कर भारत के लिए गोल्ड जीता। चीन के लिउ किजेन ने 82.22 मीटर के साथ सिल्वर और पाकिस्तान के अरशद नदीम ने 80.75 मीटर के साथ ब्रॉन्ज मेडल जीता। इस खेल में एक और भारतीय शिपवाल सिंह ने भी हिस्सा लिया था लेकिन वह आठवें स्थान पर रहे।

नीरज ने पहली कोशिश में 83.46 मीटर थ्रो किया। उनका दूसरा थ्रो फाउल हो गया, नीरज ने इसकी भरपाई तीसरे थ्रो में की और 88.06 की थ्रो के साथ गोल्ड पक्का कर लिया। इसके बाद उन्होंने चौथी बार मे 83.25 मीटर और आखरी कोशिश में 86.36 मीटर थ्रो किया। अलावा कोई भी एथलीट 83 मीटर की दूरी तक भाला नही फेक सका।

भारत ने एशियाई खेलों में भाला फेंक में कभी स्वर्ण पदक नहीं जीता था, लेकिन अब नीरज ने इतिहास रच दिया है। भारत की तरफ से भाला फेंक में आखिरी पदक 1982 मे नई दिल्ली में गुरतेज सिंह ने कांस्य पदक के रूप में जीता था।