इस बड़ी वजह के कारण अश्विन और जडेजा को किया गया टीम इंडिया से बाहर

कल भारतीय टीम के चयन के दौरान न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए रवींद्र जडेजा और अश्विन को टीम से बाहर रखा गया था.

न्यूज डेस्क:  कल बीसीसीआई ने न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम का ऐलान किया और एक बार फिर भारतीय टीम में रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा को जगह नहीं दी गई। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुई वनडे और T20 सीरीज में भी रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा को आराम दिया गया था। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन की जगह कुलदीप यादव और यजुवेंद्र चहल को शामिल किया गया था।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुई वनडे और टी-20 सीरीज में कुलदीप यादव और यजुवेंद्र चहल ने शानदार प्रदर्शन किया है जिसकी वजह से रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा की टीम में वापसी बहुत मुश्किल हो गई थी। रविचंद्रन अश्विन ने भी हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि भारतीय टीम में वनडे और टी20 में हमारी वापसी बहुत मुश्किल है। आइए जानते हैं कि रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन को भारतीय टीम में शामिल क्यों नहीं किया गया।

अश्विन और जडेजा का हालिया फॉर्म

भारतीय टीम से बाहर चल रहे रवींद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन फिलहाल डोमेस्टिक क्रिकेट खेल रहे हैं। रविचंद्रन अश्विन अपने होम टीम तमिलनाडु की ओर से जबकि रविंद्र जडेजा भी अपनी होम टीम सौराष्ट्र की तरफ से रणजी खेल रहे हैं। रवींद्र जडेजा को सौराष्ट्र के पहले मैच में प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं किया गया था। जबकि अश्विन ने तमिलनाडु की ओर से खेलते हुए सिर्फ छह विकेट लिए थे। रविचंद्रन अश्विन इस मैच में विकेट लेने के लिए जूझते नजर आए और उन्होंने इस मैच में दोनों पारियों में कुल 50 ओवर की गेंदबाजी की और 170 रन देकर छह विकेट लिए। जो कि किसी भी लिहाज से अच्छा प्रदर्शन नहीं माना जा सकता है।

भारतीय टीम के लिए पिछले 2 साल में वनडे में प्रदर्शन

रविचंद्रन अश्विन ने पिछले 2 सालों में भारत की ओर से 11 वनडे मैच खेले हैं जिनमें उन्होंने 7.23 की महंगी इकॉनमी रेट से मात्र 10 विकेट लिए हैं। वहीं दूसरी और रविंद्र जडेजा का प्रदर्शन भी कुछ खास नहीं रहा है। रविंद्र जडेजा ने पिछले 2 सालों में भारत की ओर से 15 वनडे मैच खेले हैं और इन 15 वनडे मैचों में उन्होंने 11 विकेट लिए है। लेकिन इस दौरान उनकी इकॉनमी रेट अश्विन से कम ही रही है।

चैंपियंस ट्रॉफी से ही नहीं कर पा रहे थे अच्छा प्रदर्शन

इस साल हुई चैंपियंस ट्रॉफी में भारतीय टीम ने फाइनल तक का सफर तय किया था और फाइनल में भारत को पाकिस्तान के यहां तो हार का सामना करना पड़ा था। आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में रविचंद्रन अश्विन तीन मैचों में मात्र 1 विकेट ले पाए थे। वहीं दूसरी ओर उनके जोड़ीदार रविंद्र जडेजा भी चैंपियंस ट्रॉफी में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए थे और उन्होंने चैंपियंस ट्रॉफी में पांच मैचों में 4 विकेट लिए थे। आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल में इन दोनों खिलाड़ियों ने बहुत बुरा प्रदर्शन किया था और दोनों ने मिलकर फाइनल में 137 रन लुटाए थे।