आज का इतिहास: 7 जून को भारतीय टीम के नाम दर्ज है शर्मनाक रिकॉर्ड

क्रिकेट इतिहास: आज 7 जून है और 7 जून को भारतीय टीम के नाम क्रिकेट इतिहास में दो ऐसे रिकार्ड्स दर्ज है जिन्हें दूसरी कोई टीम भूल कर भी नही तोडना चाहेगी। क्योकि ये दोनों रिकार्ड्स बहुत ही शर्मनाक है और इनमें से एक रिकॉर्ड तो भारतीय ओपनर बल्लेबाज सुनील गावस्कर की मेहरबानी है।

Also See- आईसीसी टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज़


भारत बनाम इंग्लैंड (7 जून 1952)

Ind vs Eng, Ind vs Eng in 1952, 7 जून को भारतीय टीम,

यह समय भारतीय टीम के लिए नया नया था और इस समय मे भारत एक असोसिएट देश की तरह था। 7 जून 1952 को इंग्लैड के हेंडले में इंग्लैंड के खिलाफ मैच में दूसरी पारी में भारत की शुरुवात बहुत खराब रही और भारत ने अपने शुरुआती 4 बल्लेबाज(पंकज रॉय, दत्ता गायकवाड़, एमके मंत्री और विजय मांजरेकर) मात्र 00 रन पर गवा दिए।

इंग्लैड की तरफ से फ्रेड ट्यूमन ने 4 में से 3 भारतीय बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया था। लेकिन 00 पर 4 आउट हो जाने के बाद भी भारत ने 165 रन बनाए। और फिर इंग्लैंड ने यह मैच 7 विकेट्स से अपने नाम कर लिया।


भारत बनाम इंग्लैंड (7 जून 1975)

Sunil Gavaskar, Ind vs Eng, Ind vs Eng in ICC World Cup

1975 में इंग्लैंड की मेजबानी में पहला ICC वनडे वर्ल्ड कप खेला गया और 7 जून 1975 को लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड में भारत और इंग्लैंड के बीच मैच खेला गया और इस मैच में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 60 ओवर में 334 रन बनाएं और भारत को 335 रनों का लक्ष्य दिया।

इसके बाद भारत में लक्ष्य का पीछा करते हुए निर्धारित 60 ओवरों में तीन विकेट खोकर मात्र 132 रन बनाए। ‘क्या हुआ लग गया ना झटका’  इस मैच में भारतीय ओपनर बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने नाबाद 36 रन बनाए थे लेकिन इन 36 रनों के लिए सुनील गावस्कर ने 174 गेंदों का सामना किया था। इतना ही नहीं सुनील गावस्कर ने इस पारी में मात्र 1 चौका लगाया था।

7 जून को भारतीय टीम के इस दिग्गज बल्लेबाज के द्वारा खेली गए इस पारी पर उस समय के भारतीय कप्तान वेंकटराघवन बहुत नाराज हुए थे।

Related Posts